उर्वरक विभाग, रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय भारत सरकार के अधीन फेगमिल जिप्सम का उत्पादन करने वाली आई एस ओ प्रमाणित देश की अग्रणी कम्पनी है, जिसका मुख्य उद्धेश्य भारत में अम्लीय भूमि को सुधार कर कृषि योग्य बनाना है। कम्पनी के पास सिन्दरी इकाई धनबाद में अमोनियम सल्फेट के उत्पादन में जिप्सम वितरण का 6 दशको का अनुभव है। इन वर्षो के दौरान देश को अनाज उत्पादन में आत्मनिर्भरता प्राप्त करने में मदद मिली। वर्ष 2003 में अविलयन के पश्चात, कम्पनी स्वतन्त्र रूप से सीमेंट कम्पनियों को एवं यू.पी. में विश्व बैंक परियोजना के अन्र्तगत भूमि सुधार कार्यक्रमों को जिप्सम वितरण करने लगी। तब से कम्पनी ने उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब, राजस्थान में हजारो हेक्टेअर भूमि को कृषि योग्य बनाया। कम्पनी राजस्थान के बाड़मेर, जैसलमेर, बीकानेर एवं श्री गंगानगर जिलों में स्थित अपनी खानों से जिप्सम के खनन का कार्य करती है। पंजीकृत कार्यालय सहित कम्पनी की सभी खाने ISO 9001: 2015 एवं  ISO 14001: 2015 BS OHSAS 18001: 2007 प्रमाणित है। इनकी सभी खाने पर्यावरण के अनुकूल एवं सुरक्षा उपकरणों से सुसज्जित है।